Wednesday, July 24

लॉकडाउन में पति-पत्नी ने किया कमाल और मंडी में बिका 4100 रुपए प्रति क्विंटल गेहूं, बना रिकॉर्ड

लॉकडाउन में पति-पत्नी ने किया कमाल और मंडी में बिका 4100 रुपए प्रति क्विंटल गेहूं, बना रिकॉर्ड


न्यूजहाउस डेस्कः  लॉकडाउन में जहां कुछ लोग हाथ पर हाथ रखे बैठे हैं। वहीं, कुछ लोग इस मुश्किल घड़ी में सकारात्मक काम करके मिसाल खड़ी कर रहे हैं। मध्यप्रदेश में दो ऐसे ही सकारात्मक काम होते दिखे हैं। दरअसल, प्रदेश के सागर जिले में पति-पत्नी ने मिलकर  सिंचाई के लिए कुआं खोदकर मिसाल कामय की है। वहीं, दूसरी तरफ आष्टा की मंडी में शरबती गेहूं 4100 रुपए प्रति क्विंटल बिकने का रिकॉर्ड बना है। यह प्रदेश में अब तक का सबसे ऊंचा भाव बताया जा रहा है।


साढ़े चार मीटर गहरा कुआं खोदा…

जानकारी के मुताबिक, सागर जिले में एक आदिवासी कपल ने खेत में पानी की समस्या होने से निदान के लिए खुद ही साढ़े चार मीटर का गहरा कुआं खोद डाला। अधिकारियों के मुताबिक, लॉक़ाउन में पति-पत्नी दोनों ने 25 दिन में ढाई मीटर चौड़ा और साढ़े चार मीटर गहरा कुआं खोद दिया। इसके बाद अब कुएं से निकलने वाले पानी से खेत में सब्जियों की सिंचाई हो रही है। लॉकडाउन में मजदूरी बंद होने के बाद मझगवां ब्लॉक के बहरा गांव निवासी राजू मवासी और उनकी पत्नी राजूकली ने कुआं खोदने का प्लॉन बनाया और 25 दिन में इस काम में कामयाबी भी हासिल कर ली।

नीलामी के दौरान मिला अब तक का सबसे ऊंचा दाम…

कहा जा रहा है कि प्रदेश में ऐसा पहला दफा हुआ है कि शरबती गेहूं 4100 रुपए प्रति क्विंटल की दर से बिका है। आष्टा मंडी बोर्ड के अधिकारियों का कहना है कि गेहूं के ऊंचे भाव मिलने से आगे चलकर राज्य के किसान नई तकनीक सेअच्छी क्वालिटी का गेहूं तैयार करने के लिए प्रोत्साहित होंगे। दरअसल, आष्टा उपज मंडी में ग्राम नैना निवासी फूलसिंह 35 क्विंटल शरबती गेहूं बचने लाए थे। नीलामी के दौरान सर्वाधिक बोली 4100 रुपए पर जाकर रुकी। मंडी सचिव योगेश नागले ने बताया कि मंडी इतिहास में इस भाव पर पहली बार गेहूं का सौदा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *