Friday, December 9

मप्र में गर्मी का कहर, भूख-प्यास ने ली तेंदूए की जान

मप्र में गर्मी का कहर, भूख-प्यास ने ली तेंदूए की जान


मप्र में गर्मी का कहर, भूख-प्यास ने ली तेंदूए की जान

 

भोपाल पास करोद बीट में आने वाले कुदवई के जंगल में तेंदुए का शव मिला। खबर मिलते ही वन विभाग का अमला मौके पर पहुंचा और तेंदुए को शव को अपने कब्जे में लेकर उसका पोस्टमॉर्टम करवाया।उसके बाद वनकर्मियों ने अमरावत नर्सरी में तेंदुए का अंतिम संस्कार करवाया। वेटरनेरी डॉक्टर के मुताबिक तेंदुए की मौत भूख-प्यास और लू से होना लगती हैं। डीएफओ का कहना है कि तेंदुए की मौत प्राकृतिक है। पोस्टमॉर्टम के दौरान तेंदुए की आंतें पूरी तरह से खाली मिली हैं, इससे लगता है कि उसे लंबे समय से खाना नहीं मिला था। तेज गर्मी और लगातार भूखे प्यासे रहने के कारण उसकी मौत गो गई। तेंदुए की उम्र करीब नौ साल के आसपास होगी और वह काफी दुबला पतला था। तेंदुए का एक पैर पर जख्म के निशान भी मिलते हैं।जो किसी अन्य जंगली जानवर से लड़ाई के दौरान लगी चोट के हो सकते हैं।

Edit By R.D Burman

Leave a Reply

Your email address will not be published.